Devdutt Padikkal (Pic source: @IPL instagram)

आईपीएल 2020 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम ने अपने उप कप्तान पार्थिव पटेल को ड्रॉप किया था और पहले ही मैच में बतौर सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल को जगह दी गई थी. पडिक्कल ने भी आरसीबी के मैनेजमेंट और कप्तान विराट कोहली को निराश नहीं किया. पडिक्कल ने अपने पहले ही मैच में अर्धशतकीय पारी खेली. इसके बाद उन्होंने कई और दमदार पारियां खेलीं. यहां तक कि आखिरी लीग मैच में आरसीबी के लिए एक बार फिर से उन्होंने अर्धशतक जड़ा और एक इतिहास रच दिया.

देवदत्त पडिक्कल IPL के इतिहास में एक सीजन में सबसे ज्यादा बार अर्धशतकीय पारी खेलने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं, जो अनकैप्ड इंडियन हैं. पडिक्कल ने इस टूर्नामेंट में 5वां अर्धशतक जड़ा और इसी के साथ उन्होंने शिखर धवन और श्रेयस अय्यर को पीछे छोड़ दिया. साल 2008 में दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए शिखर धवन ने 4 अर्धशतकीय पारियां खेली थीं. उस समय शिखर ने भारत के लिए डेब्यू नहीं किया था.

वहीं, साल 2015 में श्रेयस अय्यर ने दिल्ली की ही टीम के लिए 4 अर्धशतक जड़े थे और अब देवदत्त पडिक्कल ने पांच अर्धशतक ठोककर उनके रिकॉर्ड को धराशायी कर दिया है. इन तीनों ही बल्लेबाजों ने 4 या इससे ज्यादा अर्धशतक आइपीएल में उस समय लगाए हैं, जब उनको भारतीय टीम के लिए खेलने का मौका नहीं मिला है. पडिक्कल ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ इस मैच में 40 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया, लेकिन वे 41वीं गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में क्लीन बोल्ड हो गए.

गौरतलब है कि घरेलू क्रिकेट में दमदार प्रदर्शन के दम पर आरसीबी ने उनको आइपीएल 2020 के लिए खरीदा था. देवदत्त पडिक्कल टीम की सभी उम्मीदों पर खरे उतरे. पडिक्कल ने आइपीएल के 13वें सीजन में लीग फेज तक आरसीबी के लिए 14 मैच खेले और इन मैचों में 472 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 5 अर्धशतक जड़े. 33 से ज्यादा के औसत से उन्होंने इस टूर्नामेंट रन बनाए हैं, लेकिन स्ट्राइकरेट 126.54 का रहा है. 51 चौके भी इस टूर्नामेंट वे अब तक जड़ चुके हैं.