Amit Mishra was got injured in match against KKR (Pic source: @Amit Mishra instagram)

दिल्ली कैपिटल्स के अनुभवी गेंदबाज अमित मिश्रा ने इंडियन प्रीमियर लीग में जैसी सफलता हासिल की वैसे भारतीय टीम के साथ उनका करियर कभी परवान नहीं चढ़ा. मगर मिश्रा को इस बात का मलाल नहीं है. मिश्रा ने कहा कि उन्होंने इस बारे में सोचना छोड़ दिया है.

‘मुझे नहीं पता कि मैं दूसरे से कमतर हूं या नहीं’

मिश्रा ने आईपीएल में 148 मैचों में 157 विकेट लिए है और वह इस लीग में सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की सूची में लसित मलिंगा के बाद दूसरे स्थान पर हैं. मिश्रा ने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि मैं दूसरे से कमतर हूं या नहीं. मैं पहले इस बारे में बहुत ज्यादा सोचता था, इसलिए दिमाग भटक जाता था, अब मैं सिर्फ अपने खेल पर ध्यान देता हूं.’

‘मुझे वह नहीं मिला जिसका मैं हकदार था’

उन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच से पहले ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मुझे वह नहीं मिला जिसका मैं हकदार था. लोग जानते हैं कि अमित मिश्रा कौन है. मेरे लिए इतना ही काफी है. मुझे अपने क्रिकेट और गेंदबाजी पर ध्यान देना होता है जो मैं की रहा हूं.’

मिश्रा ने साथी खिलाड़ी तेवतिया की तारिफ की

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगा था कि वह अच्छा खेल सकता है लेकिन जिस तरह से वह पंजाब के खिलाफ खेला, मैंने सोचा भी नहीं था. कई बार आप इतना फोकस कर पाते हो कि हालात को अपने अनुरूप मोड़ सकते हो. इस तरह की पारी बार बार देखने को नहीं मिलती. यह उसके जीवन की सर्वश्रेष्ठ पारियों में से होगी.’

बता दें की अमित मिश्रा ने भारत के लिए 22 टेस्ट, 36 वनडे और 10 T20 मैच खेले हैं. जिसमें उन्होंने टेस्ट में 76, वनडे में 64 और टी20 में 16 विकेट चटकाए.