Virender Shewag (Pic source: @Virender Sehwag instagram)

आईपीएल में सुपर संडे के दिन दर्शकों को एक रोमांचक मैच देखने को मिला जब किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली कैपिटल्स के बीच मुकाबला टाई हो गया. मैच में दिल्ली ने मार्कस स्टोइनिस की मात्र 21 गेंदों पर सात चौकों और तीन छक्कों की मदद से बनी 53 रन की विस्फोटक अर्धशतकीय पारी के दम पर 20 ओवर में आठ विकेट खोकर 157 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया. जबकि पंजाब ने भी 20 ओवर में आठ विकेट पर 157 रन बनाए और मैच टाई हो गया. मैच अब फैसले के लिए सुपर ओवर में चला गया जिसमें दिल्ली ने आसानी से जीत हासिल कर ली. मैच के बाद पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने अंपायर के उस फैसले पर गुस्सा जताया जिसमें रन पूरा होने के बाद उसे शॉर्ट करार दे दिया गया था।

अंपायर के फैसले पर सहवाग ने किया ट्वीट

मैच के अंपायर नितिन मेनन के फैसले पर सहवाग ने ट्वीट करके गुस्सा होकर कहा कि ‘मैं मैन ऑफ द मैच की चॉइस से सहमत नहीं हूं. जिस अंपायर ने यह शॉर्ट रन दिया वह मैन ऑफ द मैच होना चाहिए था. ये शॉर्ट रन नहीं था और इसी ने मैच का अंतर अंतर पैदा किया.’

इस मैच में  किंग्स इलेवन पंजाब को आखिरी 10 गेंदों में जीतने के लिए 21 रनों की दरकार थी. 19वां ओवर दिल्ली की ओर से गेंदबाजी करने कगिसो रबाडा आए. मंयक अग्रवाल ने उनकी दूसरी गेंद पर शानदार चौका जड़ा. अगली गेंद पर उन्होंने दो रन पूरे किए. इसे अंपायर नितिन मेनन ने शॉर्ट रन करार दिया.

अंपायर के अनुसार जॉर्डन ने अपना पहला रन पूरा करते समय बल्ले को क्रीज के अंदर नहीं रखा. इस वजह से पंजाब को केवल एक रन मिला, लेकिन टीवी रिप्ले में साफ-साफ पता चल रहा था कि जॉर्डन ने क्रीज के अंदर बल्ला रखा था. इसका नतीजा ये हुआ कि मैच टाई हो गया और सुपर ओवर में पंजाब को हार का सामना करना पड़ा.