RR beat CSK by 7 wickets in 37th match of IPL 2020 (Pic source: @IPL instagram)

अनुशासित गेंदबाजी और जोस बटलर के अर्धशतक से राजस्थान रॉयल्स ने सोमवार को चेन्नई सुपर किंग्स पर 15 गेंद शेष रहते हुए सात विकेट से जीत दर्ज करके आईपीएल में जहां अपनी उम्मीदें बरकरार रखी. वहीं महेंद्र सिंह धोनी की टीम पर पहली बार प्लेऑफ में नहीं पहुंच पाने का खतरा गहरा दिया. चेन्नई पहले बल्लेबाजी का फैसला करके पांच विकेट पर 125 रन ही बना पाई.

धोनी के 200वें मैच में सीएसके की हार

धोनी का आईपीएल में 200वां मैच यादगार नहीं बन पाया. चेन्नई की टीम अभी तक आईपीएल में जब भी खेली है तब प्लेऑफ तक जरूर पहुंची है. वह तीन बार की विजेता और छह बार का उप विजेता टीम है. लेकिन इस बार उसके दस मैचों में केवल छह अंक हैं और अगले चार मैचों में जीत पर भी उसकी प्लेऑफ में पहुंचने की संभावना अगर मगर पर टिकी रहेगी. रॉयल्स दस मैचों में चौथी जीत से आठ अंक के साथ पांचवें स्थान पर पहुंच गया है.

राजस्थान के गेंदबाजों ने रखी जीत की नींव

स्मिथ और बटलर ने राजस्थान की जीत पर अहम भूमिका निभाई. लेकिन उनकी इस जीत की नींव उसके गेंदबाजों ने रखी. जोफ्रा आर्चर ने 20 रन देकर एक विकेट लिया. जबकि उसके दोनों स्पिनरों श्रेयस गोपाल (14 रन देकर एक) और राहुल तेवतिया (18 रन देकर एक) ने मिलाकर आठ ओवर में 32 रन देकर दो विकेट लिए और चेन्नई के बल्लेबाजों को दबाव में रखा.

सीएसके की सारी योजनाएं हुई फ्लॉप

धोनी का टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला गलत साबित हुआ क्योंकि चेन्नई का शीर्ष क्रम लड़खड़ा गया और 10 ओवर तक का स्कोर चार विकेट पर 56 रन था. रॉयल्स के गेंदबाजों की तारीफ करनी होगी कि उन्होंने परिस्थितियों का फायदा उठाकर चेन्नई के बल्लेबाजों को शुरू से दबाव में रखा. पिच धीमी थी, लेकिन उससे असमान उछाल भी मिल रही थी जिससे बल्लेबाज सामंजस्य नहीं बिठा पाए.