Hardik Pandya (MI) and Shikhar Dhawan (DC) after match (Pic source: @IPL instagram)

IPL के 13वें सीजन के पहले क्वालिफायर में आज शाम 7:30 बजे से मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स दुबई में आमने-सामने होंगी. जीतने वाली टीम सीधे फाइनल में पहुंचेगी और हारने वाली टीम को एक और मौका मिलेगा. क्वालिफायर-1 में हारने वाली टीम को 6 नवंबर को होने वाले एलिमिनेटर की विजेता से भिड़ना होगा. उस मैच के विजेता को फाइनल का टिकट मिलेगा. एलिमिनेटर अबु धाबी में सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच खेला जाएगा.

लीग राउंड में मुंबई-दिल्ली टॉप-2 में

लीग राउंड में मुंबई और दिल्ली पॉइंट्स टेबल के टॉप-2 में जगह बनाने में कामयाब रहीं. मुंबई ने 14 में से 9 मैच जीते और 5 हारे. 18 पॉइंट्स के साथ उसने टॉप पोजिशन पर कब्जा जमाया. वहीं, दिल्ली ने 14 में से मैच 8 जीते और 6 हारे। वह 16 पॉइंट्स के साथ दूसरे स्थान पर रही.

सीजन में दोनों बार मुंबई से हारी दिल्ली

सीजन में दोनों टीम के बीच दो मुकाबले खेले गए. दोनों बार मुंबई ने दिल्ली को हराया. पहले अबु धाबी में सीजन के 27वें मैच में 5 विकेट और दुबई में 51वें मैच में 9 विकेट से हराया था.

मुंबई के पास कई सारे मैच विनर

मुंबई इंडियंस इस टूर्नामेंट की सबसे बैलेंस्ड टीम है. बैटिंग में कप्तान रोहित शर्मा, सूर्यकुमार यादव और बॉलिंग में जसप्रीत बुमराह और ट्रेंट बोल्ट जैसे मैच विनर हैं. कीरोन पोलार्ड और क्रुणाल पंड्या जैसे ऑलराउंडर टीम को मजबूती प्रदान करते हैं.

दिल्ली की फॉर्म चिंता का विषय

दिल्ली की टीम बल्लेबाजी में शिखर धवन पर निर्भर नजर आ रही है. कप्तान श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत जैसे बल्लेबाज रंग में नहीं हैं. गेंदबाजी में कगिसो रबाडा और एनरिच नोर्तजे को बाकी गेंदबाजों से पूरा सपोर्ट नहीं मिल रहा है.

मुंबई ने सबसे ज्यादा 4 बार खिताब जीता, दिल्ली को पहले खिताब का इंतजार

आईपीएल इतिहास में मुंबई ने सबसे ज्यादा 4 बार (2019, 2017, 2015, 2013) खिताब जीता है. पिछली बार उसने फाइनल में चेन्नई को 1 रन से हराया था. मुंबई ने अब तक 5 बार फाइनल खेला है. वहीं, दिल्ली अकेली ऐसी टीम है, जो अब तक फाइनल नहीं खेल सकी. हालांकि, दिल्ली टूर्नामेंट के शुरुआती दो सीजन (2008, 2009) में सेमीफाइनल तक पहुंची थी.