Faf du Plessis (87*) and Shane Watson (83*) helped CSK chase down the target in 17.4 overs (pic source: @IPLt20 instagram)

लगातार तीन हार का मुंह देखने वाली चेन्नई सुपर किंग्स ने दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में रविवार के दिन के दूसरे मुकाबले में पंजाब को 10 विकेट से चित कर दिया. चेन्नई की जीत के नायक रहे उसके दोनों ओपनर, जिन्होंने पहली गेंद से लेकर आखिरी गेंद तक एक भी विकेट नहीं खोया. फॉर्म में लौटने वाले शेन वॉटसन ने नाबाद 83 और फैफ डु प्लेसी ने बिना आउट हुए 87 रन की पारी खेली. इससे पहले मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब ने चेन्नई के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए कोटे के 20 ओवरों में 4 विकेट पर 178 रन बनाए. पंजाब के लिए कप्तान केएल राहुल ने 63 और विकेटकीपर निकोलस पूरन ने 33 रन रन बनाए. इनके अलावा मयंक अग्रवाल ने 26 और मंदीप सिंह ने 27 रन का योगदान दिया. पंजाब के लिए सबसे ज्यादा 2 विकेट शार्दूल ठाकुर ने चटकाए.

 CSK के लिए आईपीएल में सबसे बड़ी साझेदारी

शेन वाटसन और फाफ डु प्लेसिस ने रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स के लिए आईपीएल सबसे बड़ी साझेदारी को अंजाम दिया। इन दोनों ने दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ खेले गए मैच में पहले विकेट के लिए 181 रनों की साझेदारी की जो चेन्नई के लिए आईपीएल में किसी भी विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है. इससे पहले मुरली विजय और माइक हसी ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ 28 मई 2011 में पहले विकेट के लिए 159 रनों की साझेदारी की थी। वाटसन ने नाबाद 83 और डु प्लेसिस ने नाबाद 87 रन बनाए। दोनों ने समान 53 गेंदें खेलीं और चौके भी 11-11 मारे.

आईपीएल की दूसरी सबसे बड़ी जीत

वाटसन छक्के मारने में डु प्लेसिस से आगे रहे. वाटसन ने तीन तो डु प्लेसिस ने एक छक्का मारा. इन दोनों की इस साझेदारी के दम पर चेन्नई ने लगातार तीन हार झेलने के बाद जीत दर्ज की और पंजाब को 10 विकेट से हरा दिया. साथ ही यह जीत आईपीएल में लक्ष्य का पीछा करते हुए दूसरी सबसे बड़ी जीत है.