Indian Cricket Team (Pic source: @BCCI instagram)

अजिंक्य रहाणे ऑस्ट्रेलिया टेस्ट के लिए भारत की संशोधित टीम में उप-कप्तान बरकरार हैं. लेकिन इरफान पठान को लगता है कि उनसे कहीं ज्यादा अनुभवी रोहित शर्मा को विराट कोहली की अनुपस्थिति में टीम की अगुआई करनी चाहिए जो श्रृंखला के शुरूआती मैच में खेलने के बाद उपलब्ध नहीं होंगे.  कोहली को पहले टेस्ट के बाद पितृत्व अवकाश प्रदान किया गया है और पठान ने कहा कि इससे टीम पर काफी असर पड़ेगा. जिसने दो सत्र पहले उनकी अगुआई में ऐतिहासिक श्रृंखला जीती थी. पठान ने कहा, ‘विराट कोहली के नहीं होने से टीम पर काफी प्रभाव पड़ेगा लेकिन आपको उनके फैसले का सम्मान करना चाहिए. हमें क्रिकेट के बाहर की जिंदगी को स्वीकार करना चाहिए, परिवार बहुत महत्वपूर्ण है.’

उन्होंने कहा, ‘मैदान पर इसका निश्चित रूप से काफी बड़ा अंतर पैदा होगा और किसी के लिये उनकी जगह लेना काफी मुश्किल होगा. इतने वर्षों तक उन्होंने जैसा प्रदर्शन किया है और वो भी हर तरह की परिस्थितियों में.’ पठान की निजी राय है कि कोहली की अनुपस्थिति में रोहित को टीम की कप्तानी करनी चाहिए, हालांकि रहाणे को फिलहाल उप कप्तान बनाया हुआ है. रोहित ने मुंबई इंडियंस की अगुआई करते हुए टीम को कई इंडियन प्रीमियर लीग खिताब दिलवाये हैं और साथ ही निदहास ट्रॉफी और एशिया कप में भारत को दो बड़ी ट्रॉफियां जितवाईं हैं.

उन्होंने कहा, ‘रहाणे के खिलाफ कुछ नहीं है लेकिन रोहित को कप्तानी करनी चाहिए. वह बेहतरीन कप्तान है और वह साबित कर चुका है और उसके पास जरूरी अनुभव भी है. सलामी बल्लेबाज के तौर पर उनकी भूमिका भी महत्वपूर्ण होगी. वह ऐसा खिलाड़ी है जिसे आप ऑस्ट्रेलिया में खिलाना चाहते हो. मुझे याद है 2008 में वनडे श्रृंखला में वह नया था और उसने आस्ट्रेलिया की पिचों पर काफी अच्छा प्रदर्शन किया था. चोट के बाद वह शानदार प्रदर्शन करने के लिये बेकरार होगा.’ पठान ने कहा, ‘विपक्षी टीम के लिये भूखे (रन बनाने के लिये) रोहित शर्मा से खतरनाक कुछ भी नहीं होगा. विदेशी सरजमीं पर खेलना हमेशा कठिन चुनौती होती है लेकिन जब रोहित फार्म में हो तो परिस्थितियां मायने नहीं रखतीं.’