Steve Smith has said that there is no chance of him participating in the BBL this year (Pic source: @IPLt20 instagram)

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ ने जैव-सुरक्षित वातावरण में अधिक समय बिताने से बचने के लिए आगामी बिग बैश लीग से खुद को बाहर कर लिया है. स्मिथ सहित स्टार ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर अगस्त से बायो-बबल में रह रहे हैं, जब उन्होंने सितंबर में आइपीएल के बायो सिक्योर बबल में पहुंचने से पहले इंग्लैंड का दौरा किया था. इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को भारत के खिलाफ तीनों फॉर्मेट की सीरीज भी खेलनी हैं.

डेविड वॉर्नर और पैट कमिंस भी बीबीएल से रह सकते हैं बाहर 

डेविड वॉर्नर और पैट कमिंस भी इस साल बीबीएल से बाहर रह सकते हैं. आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के कप्तान स्मिथ ने कहा कि उन्होंने बायो बबल के विपरीत प्रभाव को देखकर यह फैसला लिया है जिसमें लंबे समय तक परिवार से दूर रहना शामिल है. उन्होंने कहा कि अभी तो बबल्स की शुरुआत है. पता नहीं कि यह कितने दिन तक चलगा. चयन को लेकर सवाल तो होंगे.

‘बबल में खिलाड़ी को मानसिक परेशानियां झेलनी पड़ती है’

यदि कोई लंबे समय तक बबल में रहने के कारण छुट्टी लेता है और उसकी जगह आकर कोई अच्छा खेलता है तो क्या उसे अपनी जगह वापिस मिलेगी. इस पर स्मिथ ने कहा कि बायो बबल के भीतर रहने की मानसिक परेशानियां झेलने के बाद खिलाड़ी को कुछ समय सामान्य जिंदगी बिताना जरूरी है. उन्होंने कहा बायो बबल में आपको सुविधाएं तो मिलती हैं, लेकिन एकांत होने की वजह से खिलाड़ी डिप्रेशन का शिकार हो सकते हैं. भले ही कुछ दिन का गैप मिले, लेकिन एक सीरीज से दूसरी सीरीज या फिर टूर्नामेंट के बीच में कुछ दिन खिलाड़ियों को रियायत दी जानी चाहिए.