बांग्लादेश क्रिकेट टीम एक साल की सजा पूरा करने जा रहे हरफनमौला शाकिब अल हसन का स्वागत करने के लिए तैयार है. आईसीसी की भ्रष्टाचार रोधी इकाई ने एक भारतीय सट्टेबाज से संपर्क किए जाने की सूचना नहीं देने पर शाकिब पर बैन लगाया था. बाएं हाथ के इस खिलाड़ी पर दो साल का प्रतिबंध लगा था जो 29 अक्टूबर 2020 को खत्म हो गया.

बांग्लादेश के टी-20 टीम के कप्तान महमूदुल्लाह ने कहा कि टीम ड्रेसिंग रूम में शाकिब के स्वागत का इंतजार कर रही है. महमूदुल्लाह ने कहा, ‘हमारा खिलाड़ी वापस आ रहा है. हम जानते हैं कि शाकिब इतने वर्षों से बांग्लादेश क्रिकेट टीम के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी रहे हैं. हम सभी ड्रेसिंग रूम में उनकी वापसी का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं.’

क्यों आईसीसी ने किया था शाकिब को बैन?

दरअसल शाकिब ने दो साल पहले एक मैच में एक सट्टेबाज से बात की थी. इस बात की जानकारी उन्होंने आईसीसी की भ्रष्टाचार निरोधक एवं सुरक्षा इकाई या बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के किसी अधिकारी से नहीं की थी. बाद में फोन टैपिंग रिकॉर्ड से पता चला तो उनको दोषी माना गया. उन्होंने हाल में ही इस घटना की बात कबूल की थी. उन्होंने माना था कि बुकी द्वारा संपर्क करने की जानकारी छिपाई गई.

फिलहाल घरेलू क्रिकेट खेलेंगे शाकिब

यह 33 साल का हरफनमौला खिलाड़ी अभी अमेरिका में है और अगले महीने उनके बांग्लादेश लौटने की संभावना है. बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के मुख्य चयनकर्ता मिनहाजुल आबेदीन ने कहा कि शाकिब घरेलू क्रिकेट के जरिए राष्ट्रीय टीम में वापसी करेंगे. उन्होंने कहा, ‘हमारा सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी मैदान पर वापस आ रहा है. उन्हें अब घरेलू टूर्नामेंट के लिए खुद को तैयार करना होगा क्योंकि हमें अभी कोई अंतरराष्ट्रीय सीरीज नहीं खेलनी है.’

500 विकेट लेने वाले पहले बांग्लादेशी गेंदबाज

शाकिब ने अपने देश के लिए 56 टेस्ट, 206 वनडे और 76 टी-20 मैच खेले हैं. पिछले साल इंग्लैंड में हुए विश्व कप में उन्होंने टीम के लिए दमदार प्रदर्शन किया था. शाकिब अल हसन 5000 एकदिवसीय रन बनाने और 200 एकदिवसीय विकेट लेने वाले सबसे तेज ऑलराउंडर हैं.