Suresh Raina at practice session. (Photo source: CSK twitter)

आईपीएल के 13वें सीजन से अचानक भारत लौटे चेन्नई सुपर किंग्स के उपकप्तान सुरेश रैना ने कहा की वो अपने नीची कारणों के चलते आईपीएल छोड़कर आए हैं. एक इंटरव्यू में 33 साल के इस पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने कहा की उनके और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच में सब कुछ ठीक है. और टीम के मालिक एन.श्रीनिवासन उनके पिता समान है और पिता अपने बेटे को कभी भी डांट सकते हैं.

रैना ने कहा की “ये मेरा नीजी फैसला है. ऐसे समय में मुझे अपने परिवार के साथ रहना है, सीएसके भी मेरे परिवार जैसा है और माही भाई (महेंद्र सिंह धोनी) मेरे लिए काफी मायने रखते हैं. यह काफी कठिन निर्णय था. मेरे और सीएसके के बीच सब कुछ पहले जैसा ही है. कोई भी इंसान 12.5 करोड़ को ऐसे ही छोड़ कर नहीं आता जब तक कोई ठोस वजह ना हो मैं भले ही इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायर हो चुका हूँ. लेकिन मैं अभी भी 4-5 साल क्रिकेट और खेल सकता हूं”

रैना ने एन. श्रीनिवासन को बताया पिता समान

रैना ने कहा की एन श्रीनिवासन मेरे पिता समान हैं. एक पिता अपने बेटे को कभी भी डांट सकता है. वो मुझे अपने छोटे बेटे की तरह मानते हैं. जब मैं भारत लौट रहा था तब उन्हें मेरे जाने का सही कारण नहीं मालूम था. लेकिन बाद में उन्होंने मुझे मेसेज किया और हम दोनों ने काफी देर तक बात की.

रैना के जाने के बाद श्रीनिवासन ने दिया था बयान

रैना के अचानक जाने के बाद श्रीनिवासन ने कहा था की “यदि आप किसी बात पर अड़े हैं और खुश नहीं हैं, तो वापस जा सकते हैं. मैं किसी को कुछ करने के लिए मजबूर नहीं करता हूं. कभी कभी सफलता व्यक्ति के सिर पर चढ़ जाती है”. हालांकि बाद में श्रीनिवासन ने अपना बयान वापस ले लिया था.